मनुष्य स्वभाव और कुत्ते की दुम – ज्ञान से भरपूर कहानी

राजा कृष्णदेव का दरबार जुड़ा था और दरबार में इस बात पर गरमागरम बहस हो रही थी कि मनुष्य के स्वभाव को बदला जा सकता…

संतोषम परम सुखम – ज्ञानवर्धक कहानी

तथागत बुद्ध का एक वचन हैं – संतुष्टि परम संपदा हैं।  असंतोष संपदाशाली को भी दरिद्र बना देता हैं , और संतोष निर्धन और अभाव्ग्रस्त…

श्रीकृष्ण पुत्र ढंढण – ज्ञानवर्धक कहानी

महाश्रमण महावीर ने श्रमण – जीवन में आने वाले बाईस परीषहों का वर्णन किया हैं। श्रमण जीवन की ये बाईस परीक्षाएं हैं जिन्हें श्रमण को…

ढाई अक्षर प्रेम के – ज्ञानवर्धक कहानी

नारद भक्तिसूक्त में प्रेम के स्वरुप का प्रतिपादन करते हुए कहा गया हैं – प्रेम का स्वरुप अनिर्वन्च्नीय हैं। वह गूंगे के आस्वादन की भांति…

तितिक्षा हैं परम धर्म – ज्ञानवर्धक कहानी

भगवान महावीर ने अपने शिष्यों को उपदेश देते हुए कहा था – धर्म चिंतन में रत भिक्षु यह विचार करे कि तितिक्षा ही परम धर्म…

परम उदारताः महाकवि माघ का दान – ज्ञानवर्धक कहानी

एक प्राचीन सूक्त है – थोड़े में से जो भी प्रशस्त भावना – पूर्वक दिया जाता हैं , वह हजारों लाखों के दान की बराबरी…