Breaking News

तिल्ली वृद्धि के घरेलू चिकित्सा

कारण लम्बे समय तक जब रोगी टायफाइड , मलेरिया , कालाज्वर आदि रोगों से पीड़ित रहता हैं , तो उसकी तिल्ली (प्लीहा) भी दूषित हो जाती हैं , उसका आकार बढ़ जाता हैं और वह कड़ी हो जाती हैं। प्लीहा वृद्धि के कारण रोगी की पाचन क्रिया व रक्त शोधन …

Read More »

यकृत ( जिगर में वृद्धि )

कारण यकृत की कोशिकाओं को मुख्यतः शिराओं का रक्त ( अशुद्ध ) ही मिलता हैं , जिससे उनकी प्रतिरोधक शक्ति स्वाभाविक रूप से ही कम होती हैं। जब कोई विक्षोभकारी बाहरी द्रव्य यकृत में प्रवेश करता हैं , तो उसका मुकाबला करते हुए यकृत की कुछ कोशिकाओं की मृत्यु हो …

Read More »

पीलिया का आयुर्वेदिक उपचार – jaundice

पीलिया का आयुर्वेदिक उपचार   कारण रक्त में पित्त की मात्रा विभिन्न कारणों से बढ़ जाती हैं, तो रक्त की कमी उत्पन्न हो जाती हैं, जिससे शरीर पर पीलापन आने से इसे पीलिया कहा जाता हैं। अवस्थानुसार पांडू व कामला इसके दो भेद हैं। पांडू रोग की वृद्धि होने पर …

Read More »

अपेंडिसाइटिस का घरेलू उपचार – Appendicitis

अपेंडिसाइटिस का घरेलू उपचार  कारण आन्त्रपुच्छ बड़ी आंत का ही भाग हैं, जिसकी शरीर में कोई उपयोगिता नहीं रहती हैं। यह रोग अधिकांशतः बच्चों और युवकों में होता हैं। शरीर में रोग प्रतिरोधक शक्ति की कमी तथा आँतों मैं जीवाणु संक्रमण प्रबल होने पर आंत्रपुच्छ (एपेंडिक्स) में सूजन हो जाती …

Read More »

अर्श या बवासीर का घरेलू उपचार

अर्श या बवासीर का घरेलू उपचार कारण मल द्वार के अन्दर या बाहर जब रक्त आने वाली शिराओं का कोई गुच्छा फूल जाए, तो चारों ओर की स्लेश्म्कला और मांस के साथ उभार के रूप में त्वचा से बाहर निकल आता हैं। यही उभार अर्श कहलाता हैं और यह रोग …

Read More »

पित्ताश्मरी का घरेलू उपचार

पित्ताश्मरी का घरेलू उपचार कारण अधिक भोजन करने वाले, पच्चीस वर्ष से अधिक आयु वाले (विशेषतः महिलाओं) या अधिक समय तक बैठे रहने वाले व्यक्तियों में पित्ताशय से निकलने वाले पित्त का प्रवाह कम हो जाता हैं तथा पित्त गाढा हो जाता हैं। पित्ताशय में स्थित कोलेस्ट्रोल पित्त में घुलनशील …

Read More »

मुंह के छाले का घरेलू उपचार

मुंह के छाले का घरेलू उपचार कारण जीभ और मुंह के छाले मुख्यतया पेट साफ़ न होने और भोजन में लौह तत्व, विटामिन बी व सी आदि की कमी के कारण होते हैं।   घरेलू चिकित्सा भोजन के बाद सुबह – शाम पहले से ही पानी में भिंगो कर रखी …

Read More »

पेट के कीड़े से छुटकारा

पेट के कीड़े से छुटकारा कारण : दूषित जल या भोजन का सेवन करने से पेट में कीड़े हो जाते हैं। ककड़ी, खीरा, टमाटर, मूली आदि जो कच्ची खाई जाती हैं और पेट के लिए बहुत उपयोगी हैं, यदि गंदे नाले के पानी में उगाये गए हो, तो शरीर के …

Read More »

हैजा का देसी उपचार – Treatment of cholera

Treatment of cholera

हैजा (विषूचिका) का उपचार कारण इस रोग में रोगी को लगातार दस्त और उलटी होते रहते हैं और अस्पताल में भर्ती किए बिना रोगी की चिकित्सा कठिन होती हैं। क्योंकि शरीर में जल, लवण व कैल्शियम की कमी हो जाती हैं।   यह रोग विब्रियो कोलैरी नामक जीवाणु से फैलता …

Read More »