Home / व्यापार / CFL उद्योग कैसे लगाएं, इसके रॉ मटेरियल कहां से पाए – Latest जानकारी
cfl bulb udhyog

CFL उद्योग कैसे लगाएं, इसके रॉ मटेरियल कहां से पाए – Latest जानकारी

सीएफएल बल्ब उद्योग विद्युत उपकरण आज हर घर की अति आवश्यक चीज है प्राचीन काल में घासलेट यानी की मिट्टी के तेल के दीए प्रकाश के लिए इस्तेमाल किए जाते थे परंतु आधुनिकरण के कारण आज हर घर में बिजली का उपयोग विभिन्न उपकरणों के लिए किया जाता है. घर में सिर्फ प्रकाश के लिए ही बिजली का उपयोग नहीं होता तो बिजली पर चलने वाले अनेक उपकरणों के लिए बिजली का उपयोग किया जाता है बिजली ना हो तो आज उत्पादित उद्योगों का उत्पादन बंद हो जाता है. बिजली ना हो तो पंखा कूलर फ्रिज मिक्सर जैसे उपकरणों का उपयोग हम नहीं कर सकते हैं मनुष्य को बिजली के उपकरणों का उपयोग करना इतना आदत और जरूरत बन गया है कि बिजली के बिना दैनिक जीवन के बहुत से काम हम कर ही नहीं सकते. जेरॉक्स TV इंटरनेट सिनेमा हॉल ऐसी सभी उपकरण और उनसे संबंधित होने वाले उपकरण साथ में बिजली के बिना नहीं चल सकती है. इसी कारण आज गाँव तक बिजली का बहुत उपयोग हो रहा है बिजली की मांग प्रचंड होकर भी उस तुलना में हमारे यहां बिजली की निर्मिति नहीं होती, सरकार का पिछले कुछ वर्षों में बिजली उत्पादन बढ़ाने की ओर नजर अंदाज हुआ है और आज जहां अपारंपारिक स्रोतों से बिजली अथवा ऊर्जा निर्मिती के केंद्र खड़े हो रहे हैं.

ये भी पढ़ें: सीमा की रक्षा – ज्ञान से भरपूर कहानी

वहां किसी न किसी को राजकीय अथवा सामाजिक विरोधों के कारण उन प्रकल्पों के लिए होने वाले विरोध इसी कारण बिजली की अनुमति अत्यंत धीरे-धीरे और बिजली का उपयोग बहुत तेजी से हो रहा है. आपूर्ति और निर्मिति के बीच बहुत बड़ा फर्क होने से बिजली पर चलने वाले उपकरणों के लिए बिजली का निर्माण होने लगा देश का कितना तो भाग रात को अंधेरे में ही होता है, मांग के अनुसार आपूर्ति ना होने से बिजली महामंडल बिजली बचत को स्वीकारते हैं, ग्रामीण एरिया में तो कुछ कुछ स्थानों पर 10 घंटों से 15 घंटे तक बिजली की बचत की जाती है, बिजली ना होने से लोग खेती को पानी नहीं दे सकते परिणाम का खेती उत्पादन घटता जा रहा है, और रात को बिजली ना होने से विद्यार्थी ठीक तरीके से पढ़ाई नहीं कर पाते हैं.

ये भी पढ़ें: पाप का प्रायश्चित – हिंदी कहानी

घासलेट यानी मिट्टी का तेल राशन दुकान से गायब हुआ है इन सब पर विकल्प के रूप में बिजली के बचत हो इसलिए नया संशोधित सीएफएल बल्ब की निर्मिति हुई है, प्राचीन काल में हम अपने घर जिन बल्व  का उपयोग करते थे ६०  वाट के थे इसी कारण साधारणता चार पांच कमरों के घरों में 300 से 400 वाट की बिजली की जरूरत पड़ती थी. बिजली का भार कम होने से खराब होते थे साल में चार पांच बार बार घरों के बल्ब बदलने पड़ते थे, परंतु सीएफएल बल्व यह कम से कम 1 साल तो खराब नहीं होती, उसका उत्पादन करने वाली कंपनियां वैसी गारंटी भी देती है सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि सीएफएल बल्ब 10 से 15 वाट जो अत्यंत प्रकाशित होते हैं और स्वच्छ प्रकाश देते हैं और बिजली की भरपूर बचत भी करते हैं. सीएफएल बल्ब ट्यूब का उत्पादन किया हो तो आज उन्हें बड़े मांग है. मार्केट हर घर में बल्ब की जरूरत होने से हर घर अपना ग्राहक समझकर डोर टू डोर मार्केटिंग किया तो दोगुना फायदा होता है, उसके साथ ही सीएफएल बल्ब ट्यूब की उत्पादने बेचने वाले खास होलसेल व्यापारी भी है.

ये भी पढ़ें: राजगुरू और चुगलखोर दरबारी

इलेक्ट्रिकल दुकानें, स्टेशनरी दुकान, माल, डिपार्टमेंटल स्टोर, यहां भी इन उत्पादों की अच्छी मांग है. सीएफएल बल्ब की छोटी छोटी दुकानें और स्टॉल हमें रास्तों के किनारे अच्छा व्यापार करते हुए दिखाई देते हैं, रॉ मटेरियल सोल्डर, पेस्ट कंट्रोल, पीसीबी बोर्ड, वाइट सीमेंट, टेस्टिंग बोर्ड, कंपलीट मशीनरी एंड प्रेस वेल्डिंग मशीन इत्यादि, बल्व बनाए में जो जो सामान की जरुरत होगा वो सभी सामान आपको बहुत ही सस्ते दामों में प्रोवाइड करवाने के लिए बहुत सारी कंपनी है, बल्व उद्योग खोलने के लिए बहुत ज्यादा लागत भी नहीं लगता है, और साधारण सी जगह में इसे खोला जा सकता है. इसलिए अगर आपके मन में इस बिज़नेस को करने की इच्छा है तो आप हमें संपर्क करें. आपको बल्व बनाने में लगने वाले सभी सामान कहा से मिलेगा ये सभी जानकारी हमारे द्वारा आपको प्रोवाइड करवाया जाता है. इसके लिए आपको 500 रुपये का खर्च करना होगा। हम आपको कंपनी के अड्रेस टेलीफोन नंबर्स और जरुरी बातें बताएँगे. और जानकारी के लिए हमारे नंबर पर संपर्क करें. Mobile: 07890775814

RO Water Plant lagane ke liye ye post padhe: RO – स्मॉल बिजनेस – मिनरल वाटर / पैकेज्ड ड्रिंकिंग वाटर उद्योग

ये भी पढ़ें:

डायबिटीज की नई दवा वजन घटाने में मददगार

डायबिटीज आपके आंखों की रोशनी छीन सकती है जाने कैसे?

जानिए आपके स्मार्ट फोन गरम होने के कारण, और क्या है इसका हल

बुरा समय ये 4 काम करते ही शुरू हो जाता है – जानें और इससे बचें

वैष्णो देवी के प्राचीन गुफा के बारे में यह बातें जरूर जान लें

About admin

आपने कीमती समय देकर ब्लॉग पढ़ा धन्यबाद, ये पोस्ट आपको पसंद आया हो तो शेयर करना न भूले, ताकि इसे ज्यादा से ज्यादा लोग पढ़ें, अपना विचार जरूर लिखे, इससे हमें और ज्यादा अच्छी और लेटेस्ट जानकारियाँ लिखने के लिए प्रेरित करेगा.