SEO क्या है | SEO Kya Hai In Hindi

SEO क्या है  | SEO Kya Hai In Hindi
SEO क्या है  | SEO Kya Hai In Hindi
SEO क्या है  | SEO Kya Hai In Hindi.
SEO Kya Hai in Hindi :- दोस्तों अगर आप SEO के बारे में जानना चाहते है कि SEO kya hai और कैसे काम करता है What Is Seo In Hindi.

आज की पोस्ट में हम आपको बतायेंगे कि SEO kya Hai और कैसे करते है आज की तारीख में हर कोई अपने Product और Service को इंटरनेट पर बेचना चाहते है और SEO वो तरीका है जो वेबसाइट को फर्स्ट पेज पर दिखाने का काम करता है विजिटर ज्यादातर प्रथम पेज के साइट पर ही जाते है यहाँ आने के लिए SEO करवाना पड़ता है। SEO गूगल का Roadmap की तरह काम करता है ताकि कोई भी सर्च करे तो उसको उस बारे में सटीक जानकारी मिले।

SEO kya है - What Is Seo In Hindi


SEO kya hai और हर वेबसाइट के लिये कितना जरुरी होता है.ये प्रश्न हर किसी वेबसाइट ओनर को परेशान करता है। दोस्तों, इस डिजिटल युग में अगर आपको अपने बारे में कुछ दिखाना है तो ऑनलाइन ही वो रास्ता है जिसके माध्यम से आप दुनिया के सामने खुद को प्रेजेंट कर सकते है। SEO वो रास्ता है जिसके द्वारा आप अपनी वेबसाइट को फर्स्ट पेज रैंक करा सकते है। अगर आपके पास SEO की पूरी जानकारी है तो आप आसानी से कर सकते हो और अगर नहीं है तो मेरा पूरा पोस्ट पढ़े।  इससे आपको जरूर समझ आ जायेगा कि SEO क्या है?

SEO एक टेक्निकल प्रक्रिया है जिसका उपयोग कर के हम अपने वेबसाइट की Organic ranking increase कर सकते हैं। SEO का पूरा नाम  Search engine optimization है और इसका उपयोग किसी भी ब्लॉग या वेबसाइट की ranking और ट्रैफिक increase करने के लिये उपयोग किया जाता है।

SEO गूगल के द्वारा दिया गया एक फ्री का रास्ता है जिसका उपयोग करने से हम किसी भी वेबसाइट को गूगल के पहले पेज पर पोजीशन प्राप्त करते है । इसके लिए हमें कुछ method  का उपयोग करना पड़ता है।
SEO से हमारी वेबसाइट का traffic भी  increase होता है।

 दूसरे शब्दो मे SEO ऐसा तकनीक है, जिसका प्रयोग से हम अपनी वेबसाइट को सर्च इंजन के प्रथम पेज पर ला सकते है।


Search Engine क्या है?


मित्रों , क्या अपने कभी सोचा है कि आप जोभी गूगल पर सर्च करते है गूगल उसी से सम्बंधित बातें आपको दिखता है या सही information देने का काम करता है,  इसके लिए गूगल अपने data base में मौजूद जानकारी को पहले crawl और index करता है और बाद में रैंक करता है। यही गूगल का काम होता है ये दिखने के लिये गूगल दो रास्ते देता है एक तो फ्री का और दूसरा पैसे लेकर।


SERP क्या  है | What is SERP


SERP का full form search engine results pages है। जब भी कोई यूजर कुछ कीवर्ड या सवाल सर्च बॉक्स में enter करके submit करता है तो सर्च इंजन आपको कीवर्ड से रिलेटेड वेबसाइट दिखता है बस इसे ही search engine results pages कहते है।

SERP

इस पेज पर दो तरह के result प्राप्त होते है- Free और Paid

Free– organic results ये पूरी तरह से फ्री वाले होते रिजल्ट होते है। इसके लिए हमे SEO करने की जरूरत होती है।

Paid– paid या inorganic मे आपको पैसे लगाने पड़ते है। गूगल एड्स , इसमे जबतक आपके पैसे है तबतक आप सर्च इंजन मे आते रहेंगे और पैसे पुरे होने के बाद ये बंद हो जाता है।


SEO क्यों जरुरी होता है?


SEO Kyu Jaruri Hota Hai :- अगर आप Online  दुनिया में नये हो और मार्केट मे आपको कोई नहीं पहचानता  है और आप अपने वेबसाइट के माध्यम से अपना पहचान बनाना चाहते हैं तो SEO वह तरीका है जिनका इस्तेमाल कर के आप अपने वेबसाइट को Search engines के top पर ला सकते है और ज्यादा से ज्यादा लोग आपके वेबसाइट आएंगे इससे आपकी Website का ट्रैफिक भी बढ़ेगा और आपकी वेबसाइट सर्च इंजन मे पॉपुलर होगी।

आज के समय मे गूगल में अरबों websites सबमिट हैं, जो अलग-अलग फील्ड से हैं जब भी कोई गूगल पर कुछ भी सर्च करता है तो गूगल उस कीवर्ड से रिलेटेड वेबसाइट को दिखता है यही सर्च इंजन का मुख्य काम होता है।


SEO से न सिर्फ आपको बहुत सारा ट्रैफिक प्राप्त होता है बल्कि अगर आप बहुत अच्छे तरीके से अपने ब्लॉग या वेबसाइट का SEO करते है तो आपके वेबसाइट पर यूजर बढ़ते जायेंगे और आपकी वेबसाइट visitor के मुताबिक improve होती चली जाती है।


SEO के प्रकार - Types of SEO

SEO के प्रकार - Types of SEO
SEO के प्रकार - Types of SEO

अब आपने ये तो समझ ही लिया होगा की SEO क्या है और क्यों जरुरी है अब हम आपको SEO के types के  बारे मे बताते है। यह दो प्रकार के होते हैं- On page SEO और Off page SEO.



1: On page SEO


Onpage SEO - इसमें  बहुत सारे changes वेबसाइट के अंदर करने पड़ते हैं ताकि हमारी वेबसाइट SEO के मुताबिक बने

Keywords

SEO मै सबसे ज्यादा भूमिका Keywords की होती है यदि अपने सही कीवर्ड जिसका (Good Traffic or low competition) हो तो आपकी साइट जल्दी रैंक करेगी और आपको अच्छे रेस्पॉन्स देखने को मिलेंगे।

अगर आपका ब्लॉग ऑनलाइन पैसे कमाने से है तो आपका कीवर्ड्स ये होना चाहिए- ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए, इंटरनेट से पैसे कमाए, घर बैठे ऑनलाइन कैसे कमाए.

Title Tag

किसी भी पेज का टैग search इंजन को यह बताता है कि आपका पेज या सर्विस किस फील्ड से है। यह 40 और 60 charecter के बिच में होना चाहिए।

Meta Description

इसके द्वारा  हम search इंजनों को यह बताते है कि हम क्या सर्विस दे रहे है या webpage के content के बारे में बताते है इसमें सर्विस से रिलेटेड कीवर्ड को भी शामिल करना मुख्य होता है।

Loading Speed

हमारी वेबसाइट की loading speed जितनी अच्छी होगी हमारे  उतने ज्यादा चान्सेस होंगे गूगल के फर्स्ट पेज पर रैंक होने के| On page के माध्यम हम लोडिंग स्पीड कम करने के लिए पोस्ट पर इस्तेमाल होने वाले images को सॉफ्टवेयर के माध्यम से compress करते हैं ताकि पेज साइज काम हो जाये। 

Sitemap

Sitemap सबमिट करके हम अपने वेबसाइट की पूरी जानकारी Search engines को देते है जिससे हमारी वेबसाइट की ranking बेहतर होती है। हम sitemap का .xml फाइल बनाकर सबमिट करते है और जब भी सर्च इंजिन्स के crawlers आते है तो वो sitemap से ही website की इनफार्मेशन कलेक्ट करते है और उसी आधार पर वेबसाइट को रैंक करते है।

Google Webmaster एंड  Analytics

Google Webmaster टूल्स गूगल का फ्री सॉफ्टवेयर है जो हमारी वेबसाइट की के बारे मे बताती है यह टूल आपके वेबसाइट का ओवरआल रिपोर्ट जैसे वेबसाइट कैसा काम कर रही है, क्या समस्या है और किस कीवर्ड से कितने लोग आपके साइट पर आ रहे है वगैरह।

Google Analytics  हमारी वेबसाइट पर आ रहे ट्रैफिक के बारे मे बताता है कि ट्रैफिक कौन से लोकेशन से आ रही है और किस device से आ रहा है इसके अलावा ये हमे Bounce रेट के डीटेल आदि बताता है.


High Quality Content

Content is king - अगर आपकी वेबसाइट पर उच्च क्वालिटी कंटेंट है तो आपकी वेबसइट की रैंकिंग बहुत जल्द आने शुरू हो जाएगी। आप जिस भी टॉपिक के बारे मे लिखे उसे पूरा depth मे लिखें ताकि जो भी user आपके पोस्ट को पढ़े तो उस यूजर के सारे Douts clear हो जाएँ।


2. Off page SEO - ऑफ पेज SEO


किसी भी वेबसाइट या पोस्ट को search engine में लाने के लिये वेबसाइट के लिंक को इंटरनेट पर promotion करना important होता है इसे ही off Page SEO कहते है।

OFF page SEO के अंतर्गत अपनी वेबसाइट को प्रथम पेज पर लाने के लिए back link बनाते है जिसमे बहुत सारी एक्टिविटी होती है जैसे- Article, blog creation, press release, book marking, forum, social marketing, gust posting, Infographic.


Off Page SEO के अंतर्गत हम Link Building के बारे में भी सीखते हैं जिससे हमारी Website को Search Crawler जल्दी catch कर ले और उसे Search Result में Top पर दिखाए।

सर्च इंजन ये अवश्य  देखता है कि आपके वेबसाइट पर link कहाँ से और कितने है? Crawlers  लिंक की quality और anchor text देख कर ही इंडेक्स का निर्धारण करता है।



हमे अपने वेबसाइट की domain authority बढ़ाने के लिए आवश्यक है, जिस साइट पर हम अपना लिंक लगा रहे है उसका DA PA भी अच्छा होना चाहिए और कोई Scam or Ponzi Site नहीं होनी चाहिए।


White hat SEO


कोई भी अपनी website के लिए natural तरीके से SEO और link building बनाते है तो उसे White hat SEO कहते है। जिसे अपनी वेबसाइट को लम्बे समय के लिए रखना होता है, वो इसी Technique का इस्तेमाल करते है। White hat SEO से वेबसाइट की value के साथ traffic भी Increase होती है।


Black hat SEO


 कोई अपनी वेबसाइट को गूगल में रैंक करवाने के लिए Search engine की guidelines  नही मानता  है या गलत तरीके के लिंक उत्त्पन्न करता  है तो उसे Black hat SEO कहते है। ऐसा करने से website पर नकारात्मक  प्रभाव पड़ता है। Search engine के क्रॉलर्स ऐसी वेबसाइट को block कर देता है। जिससे वेबसाइट का भविष्य समाप्त हो जाता है। 

Conclusion

दोस्तों इस पोस्ट से आप अच्छे से समझ गये होंगे की SEO क्या है  और यह क्यों आवश्यक होता  है? आपको यह पोस्ट SEO Kya Hai कैसा लगा, कमेंट करके जरूर बताइये। अगर कोई सुझाव हो तो देना ना भूले।
धन्यवाद। 

Post a comment

0 Comments