Breaking News

Lockdown breaks in Bandra Mumbai


आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन के बाद lockdown की अवधि को  3 मई तक बढ़ाने के बाद  मुंबई में रह रहे प्रवासियों  के धैर्य की सीमा टूटती हुई दिखाई दी। प्रधानमंत्री  मोदी के लॉक डाउन की  इस अपील के बाद ही मुंबई के Bandra स्टेशन पर हजारों लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई।


लोगों को उम्मीद थी कि 21 दिन के बाद आज Lockdown टूटेगा और इसी उम्मीद में आज बड़ी संख्या में दिहाड़ी मजदूर की भारी भीड़ मुंबई के Bandra स्टेशन पर जमा हो गई । इन लोगों का कहना था कि उन्हें रहने का आश्रय नहीं मिल रहा है, खाने को कुछ भी नहीं मिल रहा है तथा फुटपाथ पर  सोने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है । लोगों के मुताबिक मुंबई प्रशासन उन्हें  समुचित संसाधन उपलब्ध नही करा रहा है।


इसी कारण से भी अब यहां रहना नहीं चाहते और वे वापस अपने घर लौट जाना चाहते हैं। इसी कारण से आज Mumbai में Lockdown की धज्जियां उड़ती दिखाई पड़ रही है। जिससे प्रशासन को खासी मशक्कत करनी पड़ रही है और उन्हें समझाना बहुत ही मुश्किल हो रहा है जिसके कारण पुलिस प्रशासन को काफी मशक्कत  करनी पड़ रही है।


लोगों की भारी भीड़ के दौरान प्रशासन के लाख समझाने बुझाने के बावजूद  प्रवासी लोगों की भीड़ कम होने का नाम ही नहीं ले रही वह अपनी जिद पर पड़े हैं कि वह अपने घर जाकर ही रहेंगे। भगदड़ के कारण बांद्रा स्टेशन पर चारों ओर लोगों के सामान एवं जूते चप्पल बिखरे पड़े हुए हैं।


भीड़ को हटाने के लिए एवं Lockdown सही तरीके से बहाल करने के लिए पुलिस को शक्ति बल का प्रयोग करना पड़ रहा है जिससे स्टेशन एवं Bandra इलाके में अफरा तफरी का माहौल बन गया। लोगों को हटाने एवं उन्हें व्यवस्थित करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज का भी सहारा लेना पड़ा।


बताते चलें कि Lockdown का अगला पीरियड संपूर्ण देश में 3 मई तक बढ़ाया गया है और लोगों से अपील की गई है की कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए यह अवधि काफी महत्वपूर्ण है। लोगों से जहां हैं वहीं रहने की अपील की गई है।


ज्ञात रहे कि Mumbai में कोरोनावायरस के फैलाव का स्तर लगातार बढ़ता जा रहा है और ऐसे में लोगों का इस तरह से बड़ी संख्या में जमावड़ा लगाना Coronavirus के प्रसार में और भी घातक साबित हो सकता है और स्थिति विस्फोटक हो सकती है।


 अब देखना यह है कि महाराष्ट्र सरकार ऐसी स्थिति उत्पन्न होने के बाद अपनी जिम्मेदारी कैसे निभाती है । हालांकि सरकार ने इस घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं। सरकार पर Lockdown पूरी तरह से पालन करने की भी जिम्मेदारी बढ़ती दिखाई दे रही है। 

No comments