CFL उद्योग कैसे लगाएं, इसके रॉ मटेरियल कहां से पाए – Latest जानकारी

cfl bulb udhyog

सीएफएल बल्ब उद्योग विद्युत उपकरण आज हर घर की अति आवश्यक चीज है प्राचीन काल में घासलेट यानी की मिट्टी के तेल के दीए प्रकाश के लिए इस्तेमाल किए जाते थे परंतु आधुनिकरण के कारण आज हर घर में बिजली का उपयोग विभिन्न उपकरणों के लिए किया जाता है. घर …

Read More »

RO – स्मॉल बिजनेस – मिनरल वाटर / पैकेज्ड ड्रिंकिंग वाटर उद्योग

miniral water plant

पानी की बोतल कभी खरीद ना ली हो ऐसा मनुष्य किसी ने संसार में देखा ही नहीं होगा कभी न कभी किसी न किसी कारण से पानी की बोतल खरीदनी ही पड़ती है। मनुष्य सफर के लिए चलने पर बस स्टैंड रेलवे स्टेशन आदि जगह पर प्यास लगने पर पानी …

Read More »

राज्य के सच्चे हितैषी

एक दिन राजदरबार में इस बात पर बहस हो रही थी कि राज्य की समृद्धि के लिए सबसे महत्वपूर्ण व्यक्ति कौन होता हैं ? एक दरबारी ने कहा, राज्य की समृद्धि वहाँ के राजा पर निर्भर करती हैं, दुष्टों को दंड देकर, प्रजा के अधिकारों की रक्षा कर, अंदरूनी अशान्ति …

Read More »

उद्यान में गायें – Hindi Kahani

विजयनगर के राजा कृष्णदेव नित्य सुबह – सवेरे अपने शाही उद्यान में टहलने जाया करते थे। अक्सर तेनालीराम भी उनके साथ टहलने आया करता था। इस बात से वे अन्य दरबारी चिढ़ते थे। वे अक्सर यह सोचते रहते कि किसी तरह तेनालीराम को राजा से दूर किया जाए। जब एक …

Read More »

गुलाब के फूल – Hindi Kahani

तेनालीराम की पत्नी को गुलाब के फूल बहुत ही प्रिय थे। इसलिए वह चोरी – छिपे अपने बेटे को शाही बाग़ में से गुलाब के फूल तोड़ने भेज देती। कुछ तो वह भगवान् को चढ़ा देती और एक फूल अपने बालों में लगा लिया करती।     राजदरबार में तेनालीराम से …

Read More »

मखमली जूती – Hindi Kahani

makhmali juta

दरबार में एक दिन राजा कृष्णदेव और तेनालीराम में इस बात को लेकर बहस छिड़ गयी कि लोग किसी भी बात पर जल्दी ही विश्वास कर लेते हैं और आसानी से बुद्धू बन जाते हैं। राजा कृष्णदेव का कहना था कि लोगों को इतनी आसानी से बेवक़ूफ़ नहीं बनाया जा …

Read More »

मकान का दान – Hindi Kahani

एक बार राजा कृष्णदेव ने तेनालीराम को सीख देते हुए समझाया कि प्रभु ने जिनको अधिक संपदा प्रदान की हैं, उनको सदैव गरीबों की मदद करनी चाहिए। गरीब ब्राह्मणों को दान देना चाहिए। जो दूसरों के लिए कुछ नहीं करता, वह मनुष्य कहलाने का अधिकारी नहीं हैं ? तुम भी …

Read More »