sciatica

गृध्रसी के लक्षण, कारण एवं घरेलू उपचार

10,010 total views, 0 views today

गृध्रसी

कारण

रीढ़ की हड्डी कशेरूकाओं से बनी होती हैं , जिनके बीच चक्रिकाएं (डिस्क) होती हैं। भारी दबाव पड़ने या झटका लगने से कोई डिस्क अपने स्थान से खिसक जाए या फट कर उसके अन्दर का द्रव पदार्थ निकल जाए , तो पैर में जा रही नाड़ी दब जाती हैं , जिससे पैर में दर्द की अनुभूति होती हैं। मधुमेह , रीढ़ की हड्डी में सूजन या वृद्धि या श्रोनिगत कैंसर के कारण भी दर्द हो सकता हैं।

 

लक्षण

इस रोग में पैर में कूल्हे के नीचे की ओर तेज दर्द होता हैं। शुरू में कूल्हे से जांघ , फिर घुटने व बाद में पिंडलियों तक दर्द पहुँच जाता हैं। कभी दर्द बढ़कर एड़ी तक पहुँच जाता हैं।

 

घरेलू चिकित्सा

  • रोगी को 2 – 3 सप्ताह बिस्तर पर पूर्ण विश्राम करना चाहिए , जिससे डिस्क के फटने या नाड़ी में सूजन के प्रभाव को नियंत्रित किया जा सके।
  • बकायन वृक्ष की दाल को धूप में सुखाकर कूट लें व छान लें। इसमें बराबर की मात्रा में पुराना गुड़ मिलाकर मटर के दाने के बराबर की गोलियां बना लें। एक – एक गोली सुबह व शाम पानी के साथ दें।
  • कुचला को घी में भूनकर बारीक पीस लें। 125 मि. ग्रा. की मात्रा में सुबह – शाम खाएं।
  • एक भाग भुनी हुई सफ़ेद फिटकरी , दो भाग कीकर का गोंद व तीन भाग मीठी सुरंजान लेकर बारीक पीस लें। इसे आधा – आधा ग्राम दिन में तीन बार दें।
  • मीठा तेलिया दो भाग , फूला हुआ सुहागा चार भाग व काली मिर्च पांच भाग लेकर पीस लें। इसे अदरक के रस में एक सप्ताह तक घोंटें और मटर के दाने के बराबर की गोलियां बना लें। एक – एक गोली सुबह – शाम दूध के साथ रोगी को दें।
  • एरंड गृध्रसी में अत्यंत प्रभावकारी हैं। एरंड का 30 ग्राम तेल तीन गुणा गोमूत्र में मिलाकर रात को पिएं या एरंड के बीज की गिरी को दूध में खीर बनाकर सुबह – शाम लें।

 

नोट: बताये हुए बिधि को यूज़ करते रहे आपको फायदा अवश्य मिलेगा, और फिर भी मन में कोई संकोच है, तो एक बार डॉक्टर की परामर्श अवश्य लें. हमारे लेटेस्ट जानकारी के पोस्ट को इसी तरह पढ़ते रहे और फायदा प्राप्त करते रहें।

admin

आपने कीमती समय देकर ब्लॉग पढ़ा धन्यबाद, ये पोस्ट आपको पसंद आया हो तो शेयर करना न भूले, ताकि इसे ज्यादा से ज्यादा लोग पढ़ें, अपना विचार जरूर लिखे, इससे हमें और ज्यादा अच्छी और लेटेस्ट जानकारियाँ लिखने के लिए प्रेरित करेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.